Swachh Bharat Mission Kya Hai?

Swachh Bharat Mission Kya Hai?

Swachh Bharat Mission Kya Hai? हमारे यहां प्राचीन समय से स्वच्छता को विशेष महत्व दिया गया है, हमारे राष्ट्रपिता महात्मा गांधी भी स्वच्छता को लेकर विशेष रूप से लोगो को जागरूक करते रहते थे।


लेकिन जिस प्रकार से भारत में जनसंख्या की वृद्धि हुई और जिस प्रकार से शहरीकरण की चाहत में हमारे देश में स्वच्छता पर कोई ध्यान ही नही दिया गया। बाहरी देश में भी हमारी छवि एक अस्वच्छ भारत की बनी हुई थी।


लेकिन हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने इस परेशानी को समझा और इसका हल निकालने और महात्मा गांधी जी के सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने महात्मा गांधी Swachh Bharat Mission (अभियान) की शुरुआत की थी।


तो आइए आज के इस आर्टिकल में महात्मा गांधी स्वच्छ भारत अभियान  के बारे मे जानकारी जानते है, Swachh Bharat Mission Kya Hai?…

Swachh Bharat Mission Kya Hai?

Swachh Bharat Mission Kya Hai?

स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने शुरुआत की थी। Swachh Bharat Mission को आप नाम से ही समझ सकते हैं की स्वच्छ भारत यानी भारत को साफ़-सुथरा बनाना।

अगर भारत के किसी हिस्से गाँव, शहर या कस्बे कहीं पर भी गंदगी है। साफ़-सफाई का अभाव है तो वहां पर सरकार द्वारा साफ़-सफाई करी जायेगी।


जहाँ पर टॉयलेट नहीं है या टॉयलेट का अभाव है वहां पर सरकार की मदद से टॉयलेट (शौचालय) का निर्माण करवाया गया।

स्वच्छ भारत मिशन परिचय –

मिशन (अभियान) का नाम :महात्मा गांधी स्वच्छ भारत अभियान
स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत कब हुई :अक्टूबर 2014
स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत किसने की :प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत कहाँ से हुई :राज घाट, दिल्ली
अभियान का लक्ष्य :भारत का हर शहर और गाँव स्वच्छ बनाना
स्लोगन :एक कदम स्वच्छता की ओर
वेबसाइट :swachhbharat.mygov.in
कब तक जारी रहा :2 अक्टूबर 2019 प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने महात्मा गांधी की 145वीं जयंती यानी 2 अक्टूबर 2014 को राजघाट दिल्ली से महात्मा गांधी जी के सपने का जिक्र करते हुए महात्मा गांधी स्वच्छ भारत अभियान की घोषणा करी।

उन्होंने कहा की गांधी जी का सपना था की वो स्वच्छ और साफ़-सुथरा भारत देखें, लेकिन वह अपने जीवनकाल में यह देख ना पाए।

लेकिन हम उनकी 150वीं जयंती यानी 2 अक्टूबर 2019 तक भारत को पूरी तरह से स्वच्छ बनाकर एक तोहफा दे सकते है। अगर हम भारतीय ऐसा करेंगे तो गांधी जी का स्वच्छ भारत का सपना पूरा हो जाएगा।


स्वच्छ भारत मिशन के दौरान सरकार के कार्य

स्वच्छ भारत मिशन को यदि सफल बनाना है तो सिर्फ पब्लिक ही नही बल्कि सरकार को भी मिलकर काम करना होगा। इस दौरान सरकार ने भी इस स्वच्छ भारत मिशन के दौरान काम किए जिससे इस मिशन को सफल बनाया जा सके।


सरकार ने स्वच्छ भारत मिशन को प्रोमोट करने के लिए हर राज्य, हर शहर में ब्रांड एम्बेसडर बनाये। उनकी मदद से इस मिशन को प्रोमोट करवाया गया।


ताकि भारत के हर गाँव और हर शहर तक इस मिशन का असर दिखे। इतना ही नहीं भारत के प्रत्येक गाँव, शहर और कस्बे में पब्लिक और घरेलू शौचालय का निर्माण करवाया।

गाँव, शहर और कस्बो में शौचालय का निर्माण

भारत सरकार द्वारा जारी महात्मा गांधी स्वच्छ भारत मिशन के तहत गाँव, शहर और कस्बों में सार्वजनिक और घरेलू शौचालयों का निर्माण करवाया गया।


सरकार ने घरेलू शौचालयों के निर्माण के लिए हर एक परिवार को 12000 रूपए तक की मदद करी थी।


चूँकि भारत में 2014 तक बहुत से गांवो और शहरो में शौचालय निर्माण नहीं हुआ था। इसी वजह से सरकार ने साफ़-सफाई को ध्यान में रखते हुए सबसे पहले शौचालय निर्माण करवाया।

आज सरकार की मदद से प्रत्येक गाँव, शहर और कस्बे के हर घर में शौचालय निर्माण करवाया गया है।


स्वच्छ भारत मिशन के तहत बनाए गए शौचालय

स्वच्छ भारत मिशन का लक्ष्य भारत को स्वच्छ रखना था, इसकी शुरुआत होने के बाद श्री नरेंद मोदी जी ने एक भाषण में कहा आज महिलाओं को शौच करने के लिए अँधेरे का इंतजार करना पड़ता है।


चूँकि हर घर में शौचालय नहीं है। लेकिन भारत सरकार इस स्वच्छ भारत अभियान के तहत हर घर शौचालय का लक्ष्य बनाएगी।

हमारी भारत की नारी अब शौच के लिए जंगल में नहीं जायेगी. 2014 के उस भाषण के बाद 2019 तक भारत देश में करीब 10 करोड़ घरों में शौचालयों का निर्माण करवाया गया।


यह बहुत बड़ा आंकड़ा है और सर्वे के अनुसार देश में 97प्रतिशत घरों में शौचालय निर्माण हो चूका है। इसके आलव एक करोड़ से भी ज्यादा शौचालय सार्वजनिक रूप से बनाये गये है।

स्वच्छ भारत मिशन के स्लोगन

महात्मा गांधी स्वच्छ भारत मिशन को प्रोमोट करने के लिए सरकार ने अनेक स्लोगन बनाये। जिनकी मदद से लोगों के बिच स्वच्छ भारत मिशन में दिलचस्पी बढ़ी। यह स्लोगन इस तरह थे:

  • एक कदम स्वच्छता की और..
  • हम सबका यही सपना, स्वच्छ हो भारत अपना
  • क्लीन सिटी, ग्रीन सिटी, यह मेरी ड्रीम सिटी.
  • क्लीन इंडिया, ग्रीन इंडिया.
  • सफाई से खुद को स्वच्छ बनाना है, स्वच्छता से पुरे विश्व में पहचान बनाना है.
  • न गंदगी करेंगे, न करने देंगे

स्वच्छ भारत मिशन का फायदा

Swachh Bharat Mission Kya Hai?

स्वच्छ भारत मिशन के अनेक फायदे हुए, आज इसी मिशन की बदौलत हम स्वच्छता का महत्व समझ पाए है. आप इस मिशन के यह फायदे समझ सकते है –

  • भारत के लगभग सभी शहरों में गंदगी 10 या 15 प्रतिशत ही रह गई है।
  • गांवो और शहरो में सफाई अभियान समय-समय पर चलाया जाता है।
  • स्वच्छता को देखते हुए अनेक गांवो को सबसे साफ़ गाँव का तमका मिला है।
  • स्वच्छता की बदौलत हमें अनेक प्रकार की बिमारियों से छुटकारा मिला है।
  • शौचालय निर्माण से घर की महिलाओं को अब बाहर नहीं जाना पड़ता।
  • आज लोग सड़क किनारे या सड़को पर कूड़ा नहीं डालते।
  • अनेक शहरो में कूड़ादान बने है।
  • दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरो में भी गंदगी कम हुई है।
  • देश में पिछले पांच सालो में सबसे ज्यादा पेड़ लगाने का रिकॉर्ड बना है।
  • नरेंद्र मोदी जी के प्रयास से 2019 तक हर घर में शौचालय बना है।
  • महात्मा गांधी जी का स्वच्छ भारत सपना पूरा हुआ है।
  • स्कूलों, सरकारी कार्यालयों एंव प्राइवेट कार्यालयों में सफाई पहले से ज्यादा देखने को मिली है।
  • बच्चों में सफाई के प्रति लगाव बढ़ा है।
  • देश का हर एक नागरिक आज स्वच्छता का महत्व समझ पाया है।

2 अक्टूबर 2019 स्वच्छ भारत मिशन की सफलता

महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती तक भारत में लगभग 10 करोड़ से भी ज्यादा शौचालयों का निर्माण हो गया था। आज भारत देश की महिलाएं जंगलो में शौच करने के लिए नहीं जाती।


इस मिशन के तहत आज हर घर में शौचालय मौजूद है। ऐसे में इस मिशन का जो टारगेट था वो 2019 में पूरा हो गया।
आज हम सब स्वच्छ भारत मिशन को अच्छे से समझते हैं। लेकिन यह मिशन हमें कभी भी समाप्त नहीं करना है।

सरकारी कागजो में यह मिशन पूरा हो सकता है लेकिन आज हम भारतियों के लिए यह मिशन हमेशा रहना चाहिए।

स्वच्छ भारत मिशन में हमारा योगदान

यदि आप चाहते है की आप भी इस मिशन का हिस्सा बने तो आपको अपने मोबाइल में स्वच्छ भारत एप्प डाउनलोड करना है।


इस एप्प को डाउनलोड करने के बाद रजिस्टर करें। आप इस मिशन का हिस्सा बन जायेंगे। अब अगर आपके आस-पास कही पर भी सफाई का अभाव है तो आप इस एप्लीकेशन से फोटो क्लिक करके अपने नजदीकी पंचायत समिति एंव सफाई कर्मचारियों के साथ शेयर कर सकते हैं।


इस एप्लीकेशन की मदद से उस स्थान की लोकेशन अपने आप पहुँच जायेगी और समय आने पर वहां सफाई कर दी जायेगी।


इसके अलावा आप चाहें तो अपने कस्बे में किसी एक निश्चित दिन या तारीख पर सफाई अभियान शुरू कर सकते हैं। इसकी मदद से आपका गाँव, कस्बा और शहर साफ़ हो जाएगा।


अगर आप सफाई पसंद करने वाले इंसान है तो अपने दोस्तों को भी इस मिशन का हिस्सा बनाये और लोगों को सफाई का महत्व जरुर बताएं।


Final Conclusion:

दोस्तो आज के इस आर्टिकल में आपने जाना की, महात्मा गांधी Swachh Bharat Mission Kya Hai? उसका उद्देश्य क्या है? इसकी शुरुआत किसने की, और इस मिशन का फायदा क्या हुआ? इन सब के बारे में जानकारी जानी।


मुझे उम्मीद है कि आपको यह जानकारी हेल्पफुल गई होगी, इस आर्टिकल से जुड़े कोई सवाल है या कोई जानकारी शामिल करवाना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Frequently Asked Questions

Q. 1: स्वच्छ भारत मिशन का उद्देश्य क्या है?

Ans: स्वच्छ भारत मिशन का उद्देश्य है की 02 अक्टूबर, 2019 तक स्वच्छ एवं खुले में शौच मुक्त भारत को बनाना। भारत के हर शहर और गाँव को स्वच्छ बनाना, लोगो को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना।

Q. 2: स्वच्छ भारत मिशन के कारण आपके आसपास क्या परिवर्तन हुई?

Ans: महात्मा गांधी ने अपने आसपास के लोगों को स्वच्छता बनाए रखने सम्बन्धी शिक्षा प्रदान कर राष्ट्र को एक उत्कृष्ट सन्देश दिया था।

इसी संदेश को आगे बढ़ाते हुए स्वच्छ भारत अभियान की शुरुआत की गई। इसी के कारण आज लोग स्वच्छता के प्रति जागरूक हुए है। ग्राम्य और शहरी विस्तार में शौचालयों का निर्माण किया गया, जिससे खुले में शौच की समस्या काफी हद तक कम हो गई है।

Q. 3: स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत कब हुई थी?

Ans: महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के स्वप्न को पूरा करने के लिए, हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने महात्मा गांधी की 145वीं जयंती यानी 2 अक्टूबर 2014 को राजघाट दिल्ली से स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआत की थी।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating / 5. Vote count:

No votes so far! Be the first to rate this post.

Sarkari Eye
हम Sarkarieye.com वेबसाइट पर आपको सरकारी योजना, गवर्नमेंट स्कीम्स, ऐतिहासिक स्मारकों, घूमने की जगहों की जानकारी, इंटरनेट से संबंधित जानकारियां और लेटेस्ट जॉब अप्डेट्स के बारे में शेयर करते हैं।